Depression कैसे दूर करे ?

Depression कैसे दूर करे ?

Depression कैसे दूर करे

किसी कमाल की बात की हैं की

लोग JiS हाल में marne की दुआ करते हैं,

maine उस हाल में जीने की kasam खाई हैं

Depression कैसे दूर करे ?

एक बार एक 50 वर्षीय व्यक्ति थे उनको अपनी जिंदगी से उदासी होने लगी उनको लगता था की जीवन ठीक नहीं चल रहा नकात्मक की और जा रहे थे और Depression होने लगे और उदास रहने लगे और घर पर आकर बच्चो पर चिढ़ते थे और अच्छी खासी बड़ी कंपनी में बड़ी पोजीशन पर काम कर रहे थे और कई कर्मचारी उनके अंडर में काम करते थे बड़ी टीम थी सब कुछ था उनके पास पर पता नहीं फ्रटेशन पता नहीं कहा से आ गई थी और उन्हें ऐसा लगने लगा था की वो डिप्रेशन की तरफ जा रहे हैं तो उनकी पत्नी ने उनसे कहा की बुरा मत मानिये आपको कॉउंसलिंग की जरुरत हैं मैं एक अच्छे ज्योतिष को जानती हु जो अच्छे कॉउंसलं भी हैं आप पहले अपनी कुंडली दिखा लीजिये वो आपको समझा देंगे की आपको क्या करना हैं जो व्यक्ति था उसने कहा ठीक हैं तुम कह रहे हो तो मान लेता हु बात को ये पहुंचे वहा कॉउंसलिंग के लिए वो ज्योतिष भी थे तो पहले उन्होंने कुंडली देखि और कहा सब कुछ ठीक चल रहा हैं ।

कोई दशा ख़राब नहीं हैं सब बढ़िया हैं तो फिर ज्योतिष ने पुछा बयाइये क्या बात हैं तो ये व्यक्ति बताने लगे की दुनिया मुझे बारोड़ समझती हैं मेरे अंदर कारतूस जितना भी सामान नहीं हैं मैं परेशान हो गया इस दुनिया से एजुकेशन लोन , कार लोन , होम लोन पता नहीं क्या क्या लाइफ में घर की समस्या और बच्चो की टेंशन ये वो और कई समस्या ये सारी समस्याओ से परेशान हो गया हु मुझे लगता हैं की मैं उदास रहने लगा हु बतायेगे मैं क्या करू

जो कॉउंसलर थे उन्होंने इस व्यक्ति एक दिलचस्पी (interesting) बात बोली की आप एक काम कीजिये की आपने कोनसे स्कूल से पढ़ाई की व्यक्ति व्हा से हुई मेरी पढ़ाई ज्योतिष ने कहा वहा जाइये जिस साल आपने 10th की थी उस साल का 10th रजिस्टर लेकर आएये उसके मैं आपको बताता हु क्या करना हैं उनको लगा की जाने मने कॉउंसलर हैं जो बता रहे सही बता रहे होंगे कोई फायदे की बात होगी वो व्यक्ति पंहुचा स्कूल में रजिस्टर तो ला नहीं सकता था उसकी फोटो क्लिक करके आ गए और उन्होंने सोच की सारे बच्चो की जानकारी तो इस फोटो में आ गई मेरे साथ उस साल मैं पढ़े थे कॉउंसलर ने कहा की एक काम कीजिये आप इनमे जिस जिस को जानते हैं

जो आपका दोस्त था क्लासमेट था जिन के बारे में आपको याद हैं जाएये इनके बारे पता करके आये की ये लोग क्या कर रहे हैं क्या जिंदगी जी रहे हैं ये सज्जन जो कॉउंसलर थे उन्होंने खा वहा पहुंचे और 10th के जो क्लासमेट थे जो इनके दोस्त रहे थे इनको याद आ रहा था की कौन कौन साथ थे इन्होने उनके घर जाना शुरू किया लाभ समय लगा महीना दो महीना लगा जब जब समय मिलता पहुंच जाते थे ढूढ़ने के लिए लेकिन उस लम्बे समय में इन्होने समझा की वो जो 10th क्लास में साथ में पढ़ते थे उनमे 10% तो दुनिया में नहीं हैं 50 वर्ष के होते होते दुनिया छोड़ के चले गए 5% ऐसे थे जिनका तलाक हो चूका हैं जो अकेले जीवन जी रहे हैं कुछ ऐसे मिली जो नशे के आधी हो गए थे जो की बात करने की भी हालत नहीं थे कुछ ऐसे मिले जिनको बीमारियों ने घेर रखा था जो हॉस्पिटल के चक्कर लगा रहे हैं किसी पर कोर्ट केसेस चल रहे थे

ये जब सभी से मिलकर अपने क्लासमेट से मिलकर वापस पहुंचे कॉउंसलर के पास जो ज्योतिष भी था और कॉउंसलर भी था की अब कैसा लग रहा हैं अभी उस नकारात्मक दुनिया में हो या उससे बहार आ गए जो सज्जनं थे उन्होंने कहा की अभी मैं ठीक हु मुझे अभी अच्छा लग रहा हैं की आपका धन्यवाद की आपने ये अनोखा तरीका निकाला की ये समझाने का की दुनिया मैं कितना गम हैं और मेरा वाला कितना कम हैं पता नहीं क्यों परेशान और उदास रहने लगा था सब कुछ होते हुए भी ऐसा लगता था की शायद मेरी जिंदगी ठीक नहीं चल रही हैं न जाने कितने लोगो से अच्छी जिंदगी जी रहा हु आपका धन्यवाद

ये कहानी हमें सिखाती और समझती हैं की जिंदगी मैं बहुत सारे ऐसे लोग जो बुरे हाल मैं जी रहे हैं लेकिन जी रहे हैं उन्होंने जिदंगी मैं giveup नहीं किया कभी नकारत्म मत सोचिये बस ये सोचिये की आज क्या अच्छा हुआ उससे मैं खुश रह सकता हु और अपनों मैं खुशिया बात सकता हु ये अच्छी बाते आप ढूंढना शुरू करेंगे तो आप हमेशा खुश रहेंगे

इस कहानी का श्रेय rj kartik को जाता हैं (RjKartik)

Author: Vijay

Leave a Reply